ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य अंतर्राष्ट्रीय मनोरंजन खेल बिजनेस लाइफस्टाइल आध्यात्म अन्य खबरें
आहार में इन चीजों को शामिल कर बढ़ायें शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा...
November 30, 2019 • Jyoti Singh • लाइफस्टाइल

हमारे शरीर के लिए हीमोग्लोबिन पर्याप्त मात्रा में होना बेहद जरूरी है। वास्तव में हीमोग्लोबिन रक्त कोशिकाओं में मौजूद लौह युक्त प्रोटीन है, जो शरीर के कई कार्यों को करने में मदद करता है। इसका मुख्य काम फेफड़ों से ऊतकों तक ऑक्सीजन पहुंचाना है। साथ ही कोशिकाओं से कार्बन डाइऑक्साइड को वापिस फेफड़ों तक लाने का काम भी यही करता है लेकिन जब शरीर में आयरन की कमी होगी तो हीमोग्लोबिन का स्तर भी कम होगा और शरीर को मिलने वाली ऑक्सीजन भी कम होने लगेगी। अक्सर देखने में आता है कि लोग इस स्थिति में दवाइयों का सेवन करने लगते हैं, लेकिन अगर आप चाहें तो अपने आहार में कुछ चीजें शामिल करके भी शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को बनाए रख सकते है-

चुकंदर
चुकंदर को शरीर में खून बढ़ाने के लिए काफी अच्छा माना जाता है। वैसे आपको बता दें कि चुकंदर से तीन गुना ज्यादा आयरन इसकी पत्तियों में होता है, इसलिए इसकी पत्तियों को फेंकने के स्थान पर किसी ना किसी रूप में अपने आहार में शामिल करें। वैसे आप इसके अतिरिक्त अन्य आयरन युक्त आहार जैसे हरी पत्तेदार सब्जियों, ओट्स, कद्दू के बीज, दालें, तरबूज, ब्रोकली, मशरूम, डाईफ्रूट्स आदि को भी अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं।

अनार व सेब
यह दोनों ऐसे फल है जो शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को ठीक करने में मदद करते हैं इसलिए आप नियम से एक अनार व सेब का सेवन जरूर करें। कुछ ही दिनों में आपको फर्क नजर आएगा।

विटामिन सी
शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए सिर्फ आयरन लेना ही काफी नहीं है। बल्कि आप कोशिश करें कि विटामिन सी युक्त चीजों को भी अपने आहार में शामिल करें। दरअसल, विटामिन सी शरीर में आयरन के अवशोषण में मदद करता है। इसलिए अगर आप विटामिन सी युक्त आहार लेते हैं तो आयरन का अवशोषण भी शरीर में बेहतर तरीके से होता है। आप नींबू, टमाटर, आंवला, स्टाबेरी, आदि को अपनी डाइट में शामिल करें।

विटामिन ए
विटामिन सी की तरह की विटामिन ए व बीटा−कैरोटीन भी आयरन के अवशोषण में मददगार होते हैं। इसलिए अगर आप चाहते हैं कि आपके द्वारा लिया गया आयरन शरीर में सही तरह से अवशोषित हो तो विटामिन ए और बीटा−कैरोटीन का सेवन करें। जहां विटामिन ए अधिकतर एनिमल फूड सोर्स में पाया जाता है, वहीं लाल, पीली व ऑरेंज फल व सब्जियों जैसे गाजर, शकरकंदी, आम आदि में बीटा−कैरोटीन की मात्रा अधिक होती है।