ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य अंतर्राष्ट्रीय मनोरंजन खेल बिजनेस लाइफस्टाइल आध्यात्म अन्य खबरें
CMS गोमती नगर ऑडिटोरियम में "विश्व एकता सत्संग"
December 23, 2019 • Jyoti Singh • उत्तर प्रदेश

लखनऊ। सेवा में ही जीवन का आनन्द निहित है। सेवा परमोधर्म है, और यही आत्मा को परमात्मा से मिलाने को सर्वश्रेष्ठ साधन है। यह विचार हैं सीएमएस संस्थापिका-निदेशिका एवं बहाई अनुयायी डॉ.भारती गांधी के, जो यहां सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर ऑडिटोरियम में आयोजित विश्व एकता सत्संग में बोल रहीं थी। आगे बोलते हुए डॉ.गांधी ने कहा कि शान्ति से ही शान्ति आती है। 

हम सब एक होकर आपसी भेदभाव मिटाकर मानवता की सेवा करें और भलाई का कार्य करें, तभी शान्ति की स्थापना हो सकती है। उन्होंने कहा कि विश्व शान्ति लाने में महिलाओं को विशेष रूप से आगे आना चाहिए व मानव जाति को करुणा, दया, प्रेम व सत्य का मार्ग दिखाना चाहिए। विश्व एकता सत्संग में आज कई वक्ताओं ने अपने सारगर्भित विचार रखे। 

इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि मानवता की सेवा करने में जो संतोष व सुख मिलता है वह किसी और कार्य में नहीं। अन्त में सत्संग की संयोजिका वंदना गौड़ ने सभी को धन्यवाद दिया।

डा. भारती गांधी