ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य अंतर्राष्ट्रीय मनोरंजन खेल बिजनेस लाइफस्टाइल आध्यात्म अन्य खबरें
जेएनयू मुद्दे पर छात्रों के समर्थन में उतरी Congress
November 22, 2019 • Edge express • राष्ट्रीय

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस ने जवाहरलाल नहेरु विश्वविद्यालय के छात्रों पर पुलिस द्वारा की गई बर्बरता पूर्ण कारवाई व केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्रालय द्वारा जबरन फीस बढ़ाए जाने के तुगलकी फरमान की कड़ी निंदा की है। प्रदेश कांग्रेस का साफ कहना है कि संघर्ष की इस घड़ी में वो जेएनयू छात्रों के साथ खड़ी है।

प्रदेश संगठन के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा के नेतृत्व में वीरवार को जेएनयू मुद्दे पर विचार करने के लिए राजीव भवन में दिल्ली के सभी पूर्व छात्र अध्यक्षों व छात्र नेताओं की एक आपातकालीन बैठक बुलाई गई। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष के अलावा पूर्व डूसू अध्यक्ष रोकी तुषीड़, रागिनी नायक, अमृता धवन, नीतू वर्मा सोईन, अल्का लाम्बा, रोहित चौधरी, डूसू सचिव आशीष लाम्बा, सीपी मित्तल, कमल कांत शर्मा, मांगे राम शर्मा, जितेन्द्र बघेल, प्रवीण राणा व अक्षय लाकड़ा मौजूद थे।

पूर्व विधायक हरी शंकर गुप्ता ने एक प्रस्ताव रखा जिसे सर्वसम्मति से पारित किया गया। प्रस्ताव में कहा गया है कि केंद्र सरकार व एचआरडी मंत्रालय द्वारा फीस बढ़ाने के फैसले को वापस लेने की मांग करने के साथ पुलिस द्वारा आंदोलन कर रहे छात्रों पर लाठीचार्ज किए जाने की कड़ी निंदा की गई है।

वहीं गुरुवार को दिल्ली विश्वविद्यालय और जामिया के छात्रों ने भी जेएनयू छात्रों के समर्थन में प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रशासन के खिलाफ छात्रों द्वारा जमकर नारेबाजी की गई। नारेबाजी करते छात्रों का हुजूम संसद मार्ग तक पहुंचा। पुलिस ने छात्रों को उससे आगे जान से रोक दिया। छात्र प्रदर्शन करते हुए मानव संसाधन विकास मंत्रालय तक जाने की तैयारी में थे, लेकिन पुलिस ने वहां तक जाने से छात्रों को रोक दिया।