ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य अंतर्राष्ट्रीय मनोरंजन खेल बिजनेस लाइफस्टाइल आध्यात्म अन्य खबरें
कपड़ों को धोने और सुखाने में करें अधिक तापमान का इस्तेमाल, नहीं होगा कोरोना का असर
April 6, 2020 • Edge express • लाइफस्टाइल

चीन के वुहान से निकला कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तांडव मचा रखा हैं पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से संक्रमण के करीब 9 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं वहीं 14,654 लोगों की मौत हो चुकी है। आंकड़ों के मुताबिक भारत में कोरोना के कुल 2072 मरीज हैं वहीं 56 लोगों की मौत भी इस वायरस से हो चुकी है। इस वायरस के कहर ने पूरा विश्व को हिलाकर रख दिया हैं।

चीन के वुहान शहर से शुरू हुए इस वायरस के संक्रमण को लेकर दुनियाभर के अलग-अलग देशों में कई रिसर्च हो रही हैं। कोरोनावायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग यानी दूसरों से दूरी बनाकर रखने की सलाह दी जा रही है। ऐसे में एक बड़ा सवाल आता है कि रोजमर्रा के काम को कैसे निपटाएं? जैसे कपड़े की धुलाई कैसे करें? कपड़े की धुलाई में भी कई बातों को ध्यान में रखकर आप कोरोनावायरस को फैलने से रोक सकते हैं। ये कुछ तरीके ऐसे हो सकते हैं----

कपड़े में स्टील और प्लास्टिक की कई चीजें लगी होती हैं, इसलिए खतरा कपड़े पर नया कोरोना वायरस कितने समय तक जिंदा रहता है, इस बारे में अधिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। लेकिन आपके कपड़े में प्लास्टिक या स्टील की कई चीजें लगी हुई होती हैं।

सूत्रों के मुताबिक कई विशेषज्ञ बताते हैं कि वायरस प्लास्टिक और स्टील पर तीन दिनों तक जीवित रह सकता है। आपके कपड़े के बटन और जिप प्लास्टिक या स्टील के हो सकते हैं। हालांकि इनसे संक्रमण फैलने का खतरा कम होता है। अधिकतर संक्रमण खांसने या छींकने, संक्रमित लोगों से हाथ मिलाने और बिना हाथ को अच्छी तरह साफ किए चेहरे को छूने से फैलते हैं।

जानकारी के अनुसार अमेरिका के जॉन जे कॉलेज में पैथोलॉजी के प्रोफेसर और बायोकेमिकल रिसर्चर एंजेलिक कोर्थल्स ने बताया है कि साधारण तौर पर जब आप बाहर से घर आते हैं, तो सावधानी के तौर पर आपको जूते उतार देने चाहिए और अपने कपड़े बदल लेने चाहिए। यह खासतौर से तब जरूरी है, जब आपने सार्वजनिक परिवहन के साधन का इस्तेमाल किया हो या आप बाहर काम करते हों। कोई यदि आपके ऊपर छींकता या खांसता है, तब आपको कपड़े भी बदलने चाहिए।

अगर आप अपने काम के समय कई लोगों से मिलते हैं तो घर आते ही आपको कपड़े बदलना चाहिए और अपने हाथ धोना चाहिए। अगर आपने अपने कपड़े से संक्रमित चीजों को छूआ है, किसी सार्वजनिक स्थल पर बैठे हैं या किसी खंभे पर टिक कर खड़े हुए हैं, तो पूरी संभावना है कि आप अपने साथ कोरोनावायरस को भी घर ले आएं। लेकिन यदि आप अधिकतर समय घर पर ही बिताते हैं, तो कपड़े और संक्रमण को लेकर अधिक चिंता करने की जरूरत नहीं।

जानकारी के अनुसार अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन के मुताबिक कपड़ा, तौलिया, बिछावन के कपड़ों को धोने और सुखाने में जितने अधिक तापमान का इस्तेमाल किया जाए, उतना अच्छा है। ऐसे कपड़े जो गर्म धूप या अधिक तापमान में खराब हो जाते हैं, उनका इस्तेमाल इस वक्त नहीं करना चाहिए।

-कपड़े धोने के बाद हाथ को साबुन पानी से अच्छी तरह साफ करना या हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना भी अच्छा विचार है। कपड़े धोने के बाद उससे पानी निकालने के लिए उसे झाड़ें नहीं, इससे वायरस फैल सकता है।