ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य अंतर्राष्ट्रीय मनोरंजन खेल बिजनेस लाइफस्टाइल आध्यात्म अन्य खबरें
मोदी सरकार पूरी तरह बदलने जा रही है 10वीं और 12वीं के इम्तिहान का तरीका, CBSE बोर्ड में ऐतिहासिक बदलाव
November 27, 2019 • Aditya Jaiswal • अन्य खबरें

मोदी सरकार शिक्षा और परीक्षा में बड़ा बदलाव करने जा रही है। अब पढ़ाई बोझ नहीं रह जाएगी बल्कि पढ़ाई का सीधा ताल्लुक रोजगार से होगा। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 10वीं और 12वीं के परीक्षा पैटर्न में बदलाव करने का निर्णय किया है। बोर्ड का कहना है कि बदलाव का कारण छात्रों में क्रिएटिव और एनालिटिकल सोच को बढ़ावा देना है।

इस बदलाव की टाइमलाइन भी तय कर ली गई है। साल 2023 तक ये बदलाव लाया जाएगा। इसके बाद शिक्षा सीधे रोजगार से जुड़ जाएगी। सीबीएसई के मुताबिक इस साल 10वीं और 12वीं में 20 प्रतिशत ऑब्जेक्टिव प्रश्न और 10 प्रतिशत प्रश्न क्रिएटिव थिंकिंग पर आधारित होंगे। इससे बच्चों के भीतर बदलाव आएगा जिससे बच्चों की सोचने और समझने की स्किल डेवलप होगी। साथ ही वोकेशनल सब्जेक्ट को भी 5 भागों में बांटा जाएगा।

सीबीएसई इस बात पर भी ध्यान दे रही है कि टीचर्स को उन स्टूडेंट्स पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है जो कि कमजोर हैं। इसके लिए अलग से मैकेनिज्म तैयार किया जा रहा है। साथ ही टीचर्स को अपडेट करने के लिए स्पेशल ट्रेनिंग सेशन भी आयोजित किए जाएंगे जिससे सिस्टम जल्दी अपग्रेड हो सके। सरकार की कोशिश है कि बच्चों को पढ़ाई बोझ नहीं लगनी चाहिए। उनको पढ़ने में मजा आना चाहिए।