ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश अन्य राज्य अंतर्राष्ट्रीय मनोरंजन खेल बिजनेस लाइफस्टाइल आध्यात्म अन्य खबरें
समाजवादी पार्टी नागरिकता संशोधन अधिनियम एवं NRC का विरोध करेगी : अखिलेश यादव
December 20, 2019 • Edge express • अन्य खबरें

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा अभी भी जनता को गुमराह करने से बाज नहीं आ रही है। असली ताकत तो जनता की होती है। बहुमत के बल पर जनमत को नहीं ठुकराया जा सकता है। उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वह जनता के बीच जाएं और भाजपा की साजिशों का पर्दाफाश करे। समाजवादी पार्टी एनआरसी का पूरा विरोध करेगी। उन्होंने कहा नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध में आवाज उठाने वालों पर दमनात्मक कार्यवाहियां करके भाजपा अपने पैरों पर ही कुल्हाड़ी मारने का काम कर रही है। वह निर्दोषों के साथ अन्याय कर रही है। यह लोकतंत्र की स्वस्थ स्थिति नही है। 

उन्होंने कहा, भाजपा और आरएसएस का रास्ता एक है। आरएसएस की आजादी के आंदोलन में तनिक भी भूमिका नहीं थी। भाजपा अपनी संघी विचारधारा देश पर थोपने का काम कर रही है। नागरिकता संशोधन अधिनियम और एनआरसी जैसे कानून लाकर भाजपा देश और समाज को बांटने की साजिश कर रही है। जिनका संविधान में विश्वास है, वे सब इनके विरोध में हैं। जनता में भारी असंतोष और आक्रोश है। समाजवादी पार्टी नागरिकता संशोधन अधिनियम एवं एन.आर.सी. का पुरजोर विरोध करेगी। 

श्री यादव यहां पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में डाॅ. लोहिया सभागार में बड़ी संख्या में एकत्र कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में असहमति का संवैधानिक अधिकार है। भाजपा जानबूझकर ऐसे काम करती है ताकि बुनियादी समस्याओं से लोगों का ध्यान बंटाया जा सके। भाजपा सरकार ने पहले नोटबंदी फिर जीएसटी लगाकर अशांति पैदा की अब फिर नया विवाद पैदा कर दिया है। अखिलेश यादव ने कहा कि गांधी जी और डाॅ. लोहिया ने देश की एकता के लिए परस्पर सद्भावना और एक दूसरे का सम्मान का रास्ता बताया था। वे नीचे से ऊपर तक विकास के पक्षधर थे। उनके विचार केन्द्र में समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति का महत्व था। समाजवादी पार्टी उन्हीं के बताए रास्ते पर चल रही है। समाजवादी सरकार के कार्यकाल में किसानों, गरीबो, नौजवानों और दलितों के हित की तमाम योजनाएं लागू की गई थीं।
 
अखिलेश यादव ने कहा, भाजपा सरकार में रोजगार ही नही है। लोगों ने बताया कि किसानों के लाभ के लिए कृषि उत्पाद के विपणन हेतु समाजवादी सरकार में मंडियों के निर्माण के जो काम शुरू हुए थे उन्हें रोक दिया गया है। चारलेन सड़कें समाजवादी सरकार में बनी। विश्वस्तर की सिंगल पिलर पर 6 लेन की सड़क गाजियाबाद में बनाई गई, वैसी दूसरी सड़क पूरे देश में नहीं है। उन्होंने एक स्वर से उपस्थित लोगों ने कहा कि विकासकार्यों के लिए जनता अखिलेश यादव को याद करती है। सभी लोग चाहतें है कि पुनः श्री अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने ताकि विकासकार्यों की गंगा बह सके। विकास का बुनियादी ढांचा समाजवादी सरकार में ही बना था। सभी का कहना था कि वे सन् 2022 का इंतजार कर रहे है जब वे प्रदेश में सत्ता परिवर्तन कर समाजवादी सरकार बनायेंगे।